Saturday , May 25 2019
Loading...
Breaking News

मुंबई व चेन्नई के फाइनल मुकाबले में इस वक़्त दर्शको की थम गई थी सांसे

शहर के राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए फाइनल मुकाबले में चेन्नई को हराते हुए मुंबई ने रिकॉर्ड जीत अपने नाम की. हालांकि मुंबई के लिए ये जीत इतनी सरल नहीं थी  आखिरी गेंद पर ही उसे जीत नसीबहुई. मुंबई के 149 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए चेन्नई की टीम 20 ओवरों में सिर्फ 148 रन ही बना पाई  1 रन से मैच पराजय गई.

ऐसा फंसा था मुकाबला

आपको बता दें चेन्नई को जीत के लिए आखिरी ओवर में 9 रनों की दरकार थी  रोहित ने गेंदबाजी के लिए अपने सबसे अनुभवी गेंदबाज लसिथ मलिंगा को बुलाया.चेन्नई की तरफ से क्रीज पर उपस्थित थे शेन वॉटसन  रविन्द्र जडेजा. अंतिम ओवर के इस रोमांच ने कर किसी को सहमने पर विवश कर दिया फैंस  क्रिकेटर्स की फैमेली भी लगातार जीत की दुआ कर रहेथे 

इस तरह था अंतिम ओवर का रोमांच

ओवर प्रारम्भ होते ही पहली गेंद पर मलिंगा की यॉर्कर गेंद पर वाटसन में 1 रन लिया. वही दूसरी गेंद पर मलिंगा की नीची फुल टॉस गेंद पर जडेजा ने भागकर 1 रन लिया. तीसरी गेंद पर मलिंगा की यॉर्कर गेंद पर वॉटसन ने वाइड लॉन्ग ऑन की तरफ शॉट खेलकर 2 रन लिया. चौथी गेंद पर मलिंगा की फिर से वॉटसन को यॉर्कर गेंद लेकिन वाटसन ने उसे डीप पॉइंट की तरफ खेला  2 रन लेने के लिए भागे लेकिन पांड्या के सटीक थ्रो  डीकॉक की शानदार विकेटकीपिंग के वजह से वॉटसन रनआउट हो गए. वही पांचवीं गेंद पर बल्लेबाजी करने के लिए आए शार्दुल ठाकुर ने मलिंगा की फुल टॉस गेंद पर डीप बैकवर्ड स्क्वायर की तरफ शॉट खेला  दो रन ले लिए. इसी के बाद छठी और अंतिम गेंद पर मलिंगा की सटीक यॉर्कर जो ठाकुर के पैड पर लगी  अंपायर ने उन्हें आउट दे दिया. इसी के साथ मुंबई ने 1 रन से मैच जीतकर चौथी बार खिताब अपने नाम किया.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *